Pahari Gandrain (50gm) ORGANIC

Rated 5.00 out of 5 based on 1 customer rating
(1 customer review)

Compare

गंद्रैण एक हिमालयन औसधि है जो की खाने मैं डाली जाती है | यह उत्तराखंड मैं ख़ास कर गहत व अन्य दालों मैं डाली जाती है | गहत की दाल गुणकारी होने के साथ पेट के लिए भारी होती है पर गंद्रैण डालने से यह उसके भारीपन को ख़तम कर देता है | दाल मैं गंद्रैण डालने से उसका स्वाद तो बढ़ता ही है साथ मैं यह पेट के लिए बहुत उपयोगी साबित होता है |
अगर आपको पेट मैं दर्द है तो आप सीधे थोड़ा सा गंद्रैण पानी के साथ ले सकते हैं और यह तुरंत असर करना सुरु कर देता है | और साथ साथ हिमालियन आयुर्वेदिक औसधि होने के कारण लाभकारी सिद्ध होता है |
इसकी भी थोड़ी सी मात्रा काफी होती है | यह काफी लम्बे समय तक खराब नहीं होता है | कई सालो तक आप इसका प्रयोग कर सकते हैं |

120.00

गंद्रैण एक हिमालयन औसधि है जो की खाने मैं डाली जाती है | यह उत्तराखंड मैं ख़ास कर गहत व अन्य दालों मैं डाली जाती है | गहत की दाल गुणकारी होने के साथ पेट के लिए भारी होती है पर गंद्रैण डालने से यह उसके भारीपन को ख़तम कर देता है | दाल मैं गंद्रैण डालने से उसका स्वाद तो बढ़ता ही है साथ मैं यह पेट के लिए बहुत उपयोगी साबित होता है |
अगर आपको पेट मैं दर्द है तो आप सीधे थोड़ा सा गंद्रैण पानी के साथ ले सकते हैं और यह तुरंत असर करना सुरु कर देता है | और साथ साथ हिमालियन आयुर्वेदिक औसधि होने के कारण लाभकारी सिद्ध होता है |
इसकी भी थोड़ी सी मात्रा काफी होती है | यह काफी लम्बे समय तक खराब नहीं होता है | कई सालो तक आप इसका प्रयोग कर सकते हैं |

Category: Tag:

Based on 1 review

5.0 overall
1
0
0
0
0

Add a review

  1. Rated 5 out of 5

    Sanjeev Joshi

    How much quantity we have to use if making gahat dal for 5 people?

    Sanjeev Joshi



MENU
MENU